कुछ हो नहीं रहा आपसे या जम नहीं रहा या आप बोर हो रहे तो आप वायरल हो जाइए। इसके लिए कुछ खास नहीं करना। आप ऐसे व्‍यक्ति की पहचान कीजिए जो जवाब में जूते ना मार सके। (इस लोकतंत्र को ऐसे लोगों से भरा जा रहा है।) फिर उसे गिन कर कुछ जूते मारिए। फिर जूतों की या उसके जूता खाए चेहरे की तस्‍वीर नेट पर डालिए। और बोलिए कि यह शख्‍स सपने में मेरे महान बाप को गालियां दे रहा था। हो सके तो अपने महान बाप की तस्‍वीर शेयर कीजिए। महान बाप की तस्‍वीर ऐसी बनाइए कि लगे कि जो गालियां दी गयी हैं उसने उनको आहत किया है और अगर आपने कुछ नहीं किया तो वे आत्‍महत्‍या कर लेंगे। अगर महान बाप स्‍वर्ग में हों तो भी कोई बात नहीं, आत्‍मा तो स्‍वर्ग में भी रहती है और वहां भी आहत हो ही सकती है।

अपने महान बाप और पिटे हुए व्‍यक्ति की तस्‍वीरें आजू-बाजू डालिए और उसके साथ फूल और चप्‍पल पास ही रख दीजिए। और चूंकि यह लोकतंत्र है तो लोगों को छूट दीजिए कि वे अपनी खुशी या सुविधा या भावनाओं के हिसाब से उसके पिता को फूल चढाएं और पिटे हुए को जूते मारें या संभव हो तो दोनों करें। इसके एवज में कुछ हल्‍का फुल्‍का चार्ज भी कर सकते हैं आप। फूल चढाने के साथ जूते मारना फ्री भी कर सकते हैं। लोगों को छूट दीजिए कि वे इसे अपने बाप भाई मां बहनों के साथ शेयर करें या टैग करें। कमजोर दिल वालों को आप कुछ किफायत दे सकते हैं या उनके जूते आप फूलों से बना सकते हैं या कम से कम फूलों जैसे वे दिखें ऐसा तो कर ही सकते हैं।

यूं आप अपने बाप, भाई या लंगोटिया यार को भी जूते मार सकते हैं बस उसे पता होना चाहिए कि यह सब आप अपने या उसके वायरल होने के लिए कर रहे। कहीं बिना पहले बताए आपने ऐसा कर दिया तो आपकी वही दशा होगी जो पिलपिल बेशर्मा की हुई है। यूं चिंता की कोई बात नहीं। बाद में आप चांदी के जूतों से पीटकर उसे शांत कर सकते हैं और वापिस अपने चंडूखाने में शामिल कर सकते हैं। हां, चांदी के जूते मारते समय आप एक गाना (जूता मारो भेजे पर तेरा भेजा शोर करता है) गाएं तो सड़े पर सुहागा हो जाए।

देखिए भिगाकर इतने जूते मारे मैंने, आपको बुरा तो नहीं लगा ना। हां, आपको कुछ लगेगा ही नहीं बस दिमाग में रहना चाहिए कि वायरल होना है।

Leave a Reply

WordPress spam blocked by CleanTalk.