जनवरी-मार्च 2018 पहला अंक प्रकाशित-

आप सभी को यह बताते हुए अपार हर्ष हो रहा है कि सिंगापुर से पहली हिंदी पत्रिका ‘सिंगापुर संगम’ का पहला अंक आपके समक्ष प्रस्तुत है| इस त्रैमासिक पत्रिका को एक पारिवारिक पत्रिका के रूप में पेश करने की कोशिश है| यहाँ रहने वाले कवि, लेखक, रचनाकार अपनी रचनाओं से दुनिया को रू-ब-रू करवाते रहें, साथ ही आने वाली पीढ़ी इस पत्रिका में बढ़-चढ़कर हिस्सा ले तो हिंदी को संजोए रखने की पहल को एक नई दिशा मिलेगी| सिंगापुर में हिंदी बोलने व समझाने वालों का इतिहास लंबा रहा है| यहाँ का ‘लिटिल इंडिया’ शायद छोटा भारत ही है| इस छोटे भारत को विश्व ग्राम तक पहुँचाने की छोटी सी कोशिश है|

यह पत्रिका सिंगापुर और विश्व के सभी हिंदी प्रेमियों का संगम चाहती है| अत: आप सबकी रचनाएँ, सुझाव, प्रतिक्रियाएँ सादर आमंत्रित हैं|

उम्मीद यही है कि आप विश्व नक़्शे पर स्थित छोटे से बिंदु समान देश में हिंदी की इस पहल को आगे बढ़ाएँगे और ज़्यादा से ज़्यादा लोगों से जोड़ने की कोशिश करेंगे|

धन्यवाद सहित

डॉ संध्या सिंह
नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ़ सिंगापुर
सेंटर फॉर लैंवेज़ स्टडीज़
फैकल्टी ऑफ़ आर्ट्स एंड सोशल साइन्सेज़
सिंगापुर
Dr Sandhya Singh
National University of Singapore
Centre for language studies
Faculty of Arts and Socail Sciences
9 Arts link, Singapore
www.singaporesangam.com
sangam.singapore@gmail.com

7 Comments

Leave a Reply

WordPress spam blocked by CleanTalk.